StateVaranasiहिंदी

वाराणसी: भाजपा की जनसभा में स्मृति ईरानी और केशव मौर्य का कांग्रेस पर तीखा हमला

वाराणसी। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने वाराणसी में आयोजित एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान दोनों नेताओं ने भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील करते हुए कांग्रेस पर तीखा हमला बोला।

स्मृति ईरानी ने काशीवासियों को गर्व महसूस करने की बात कहते हुए कहा, “काशी को गौरव होना चाहिए कि इनके सांसद (नरेंद्र मोदी) ने देश की महिलाओं की इज्जत रखने का कार्य किया। माता अन्नपूर्णा के आशीर्वाद से देश के 80 करोड़ गरीब परिवारों को राशन देने का कार्य भी हुआ है।” उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, “कांग्रेस अब पाकिस्तान के नागरिकों के लिए बॉर्डर खोलने को तैयार है, जबकि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सशक्त सरकार इसका विरोध कर रही है। काशी के लोगों के आशीर्वाद की वजह से ही नरेंद्र मोदी हर मुसीबत से पार पा जाते हैं और देश दुनिया में यहां का मान बढ़ाया है।”

ईरानी ने आगे कहा, “अगर नरेंद्र मोदी को काशी से सांसद ना बनाया होता तो आज भव्य राम मंदिर का निर्माण देखने को नहीं मिलता। राम भक्तों को कांग्रेस की लंका को आग लगाने का समय आ गया है।”

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, “पूरी दुनिया में मोदी जी के टक्कर का कोई नेता नहीं है। 2014 से पहले की काशी और 2024 की काशी को सब लोग अपनी आंख से देख सकते हैं। काशी का यह विकास अविस्मरणीय है और 2024 में मोदी जी का तूफान चल रहा है।”

मौर्य ने जोर देकर कहा, “अगर रामलला को न्याय मिला है, तो बाबा विश्वनाथ और कान्हा को भी न्याय मिलेगा। आज देश में दो विचारधाराओं की लड़ाई चल रही है। पहले मंदिर के नाम से लोग परहेज करते थे लेकिन अब सब लोग मंदिर जाने लगे हैं। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ताकत है कि अखिलेश यादव और राहुल गांधी जनैऊ धारण कर लिए हैं।”

मौर्य ने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, “कांग्रेस भ्रष्टाचार की अम्मा की अम्मा है। इनको सबक सिखाना जरूरी है।” उन्होंने जनता से अपील की कि “विकसित भारत के संकल्प को पूरा करने के लिए मजबूत सरकार का होना जरूरी है।”

सभा के दौरान भाजपा नेताओं ने काशी के विकास कार्यों और प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व की तारीफ करते हुए जनता से पार्टी के पक्ष में वोट करने का आह्वान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *